अंजुमन यादगार चिश्तिया शेखजादगान की जानिब से एडवोकेट सैयद मजाहिर चिश्ती का इस्तकबाल किया

||PAYAM E RAJASTHAN NEWS|| 29-JUNE-2024 || अजमेर || अंजुमन यादगार चिश्तिया शेखजादगान की जानिब से एडवोकेट सैयद मजाहिर चिश्ती का इस्तकबाल किया गया। हजरत ख्वाजा मोइनुद्दीन हसन चिश्ती गरीब नवाज की दरगाह में हुए बम ब्लास्ट के बाद मारपीट के झूठे मुकदमे में फसाऐ गए लोगों को कोर्ट ने बरी किया। इस मुकदमें की पैरवी और बहस सैयद मजाहिर चिश्ती ने कि । इस संबंध में अंजुमन यादगार चिश्तिया शेखजादगान की जानिब से सचिव हाजी फहीम अहमद चिश्ती, कोषाध्यक्ष अमजद हुसैन चिश्ती, उपाध्यक्ष अब्दुल कलाम चिश्ती, ताजमुल हुसैन चिश्ती, डॉक्टर सोहेल अहमद चिश्ती, पूर्व अध्यक्ष मोहम्मद सुभान चिश्ती, सैयद रेहान अहमद चिश्ती ने सैय्यद मजाहिर चिश्ती का दस्तार बंदी कर इस्तकबाल किया और हमेशा ऐसे ही तरक्की करने और बेगुनाहों के पक्ष में पैरवी कर उन्हे न्याय दिलाने की दुआ की। बता दें की दरगाह बम ब्लास्ट मामले में पुलिस की ओर से 200 लोगों पर उन पर हमला करने का मुकदमा दर्ज करवाया था जिसमें अबू तालिब चिश्ती सहित उनके 12 साथियों पर 17 साल तक मुकदमा चला। जिस पर दिनांक 13 जून 2024 को माननीय न्यायालय अतरिक्त मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट संख्या 2 ने फैसला सुनाते हुए संदेह का लाभ देते हुए आरोपियों को बरी किया है।

Comments

Popular posts from this blog

क़ुरैश कॉन्फ्रेंस रजिस्टर्ड क़ुरैश समाज भारत की अखिल भारतीय संस्था द्वारा जोधपुर में अतिरिक्त जिला कलेक्टर दीप्ति शर्मा को मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन सौप कर सूरसागर में आये दिन होने वाले सम्प्रदायिक दंगों से हमेशा के लिये राहत दिलाने की मांग की गई है।

विवादों के चलते हों रही अनमोल धरोहर खुर्द बुर्द व रिश्ते तार तार

अग्रसेन जयंती महोत्सव के अंतर्गत जयंती समारोह के तीसरे दिन बारह अक्टूबर को महिला सांस्कृतिक प्रतियोगिताएं संपन्न