सम्राट अशोक ने की थी कल्याणकारी राज्य की स्थापना

||PAYAM E RAJASTHAN NEWS|| 25-OCT-2023 || अजमेर || बुद्धा हिल्स स्थित बुद्ध ज्योति विहार में हर वर्ष की भांति इस वर्ष भी सम्राट अशोक धम्म विजयदशमी पर्व का आयोजन हुआ। कार्यक्रम की शुरुआत करते हुए बौद्ध उपासक उपासिकाओ ने सम्राट अशोक एवं बोधिसत्त्व डॉ अंबेडकर की प्रतिमा पर पुष्प अर्पण किया। इस अवसर पर सम्राट अशोक के बेमिसाल शासन काल और उपलब्धियां को याद किया गया। कार्यक्रम में मुख्य वक्ता के रूप में बोलते हुए डॉ सुरेश अग्रवाल पूर्व एसोसिएट प्रोफेसर राजकीय महाविद्यालय, अजमेर द्वारा विस्तार से अपने विचार रखें। सम्राट अशोक ने भगवान बुद्ध की शिक्षाओं से प्रेरित होकर अनेक ऐतिहासिक महान कार्य करके राष्ट्र का गौरव बढ़ाया। अशोक ने बुद्ध की शिक्षाओं के कारण ही भेरी घोष की जगह धम्म घोष किया था। कलिंग युद्ध की विजय के बाद शांति और सौहार्द के माध्यम से युद्ध छोड़कर सबके दिलों पर राज किया इस बात ने उसे दुनिया का महान शासक बनाया। विशिष्ट अतिथि पद से बोलते हुए डॉ राजवीर कुलदीप ने कहा कि बोधिसत्व डॉ अंबेडकर द्वारा अशोक धम्म विजय दशमी के अवसर पर ही बौद्ध धर्म की दीक्षा को ऐतिहासिक कदम बताया। इस अवसर पर प्रेम प्रकाश सिंह बौद्ध, मदन सिंह बौद्ध, डॉ गुलाबचंद जिंदल, डॉ सुशील कुमार बौद्ध और तृप्तिबोध आदि वक्ताओं ने भी अपने विचार रखें। ब्यावर से पधारे वरिष्ठ बौद्ध उपासक आशु लाल उमाजी कुर्डिया को उत्कृष्ट कार्य के लिए बुद्ध ज्योति फाउंडेशन ट्रस्ट रजिस्टर्ड द्वारा धम्माचारी की उपाधि दी गई। कार्यक्रम की अध्यक्षता धम्मरतन आनंद एवं धन्यवाद वरिष्ठ समाजसेवी नारायण सिंह राठौड़ ने दिया। मंच संचालन वेद प्रकाश बौद्ध द्वारा किया गया।

Comments

Popular posts from this blog

विवादों के चलते हों रही अनमोल धरोहर खुर्द बुर्द व रिश्ते तार तार

अग्रसेन जयंती महोत्सव के अंतर्गत जयंती समारोह के तीसरे दिन बारह अक्टूबर को महिला सांस्कृतिक प्रतियोगिताएं संपन्न

पूज्य सिंधी पंचायत और भारतीय सिंधु सभा के संयुक्त तत्वाधान में बाल संस्कार शिविर का आयोजन