रोडवेज बस स्टैंड की टूटी सड़क दे रही हादसो को न्योता, अधिकारियों व ठेकेदार नही ले रहे टूटी सड़क की सुध

||PAYAM E RAJASTHAN NEWS|| 25-SEP-2023 || नसीराबाद || गहलोत सरकार ने छावनी क्षेत्र के वाशिंदो को राहत पहुंचाने के उद्देश्य से गत वर्ष करीब 4 करोड रुपए की लागत से 14 सड़कों का डामरीकरण का कार्य करवाया था गुणवत्तापूर्ण व मापदंडों के अनुसार कार्य नहीं होने पर अधिकांश सड़के साल भर में कई मर्तबा टूट गई स्थानीय रोडवेज बस स्टैंड की सड़क का निर्माण भी कराया गया था किंतु तीन माह से रोडवेज बस स्टैंड परिसर में बनी सड़क जगह से उखड़ गई कई जगह गहरे खड्डे हो गए बारिश का पानी भर जाने से खड्डे नजर नहीं आने के कारण हादसों का अंदेशा बना रहता है रोडवेज बस स्टैंड के मुख्य द्वार की सड़क पूरी तरह से उखड़ गई है जिसके कारण चालकों को भी परेशानी उठानी पड़ती है उक्त रोडवेज बस स्टैंड पर रोजाना करीब 200 बसो की आवाजाही रहती हे टूटी सड़क के कारण यात्रियों को परेशानी का सामना करना पड़ता है उसके बावजूद भी गारंटी पीरियड में सड़क होने के बावजूद ठेकेदार के द्वारा टूटी सड़क का डामरीकरण का कार्य नहीं करवाया जा रहा इससे पूर्व भी रोडवेज बस स्टैंड परिसर की सड़क टूट जाने पर मीडिया में खबरें प्रकाशित होने पर ठेकेदार के द्वारा मिट्टी डालकर खाना पूर्ति कर दी गई थी

Comments

Popular posts from this blog

विवादों के चलते हों रही अनमोल धरोहर खुर्द बुर्द व रिश्ते तार तार

अग्रसेन जयंती महोत्सव के अंतर्गत जयंती समारोह के तीसरे दिन बारह अक्टूबर को महिला सांस्कृतिक प्रतियोगिताएं संपन्न

पूज्य सिंधी पंचायत और भारतीय सिंधु सभा के संयुक्त तत्वाधान में बाल संस्कार शिविर का आयोजन