मणिपुर में फैली अराजकता देश के गृह मंत्री की असफलता की सूचक है- आप

||PAYAM E RAJASTHAN NEWS|| 21-JULY-2023 || अजमेर || आप अजमेर लोकसभा प्रभारी त्रिवेंद्र पाठक ने बताया कि जिस प्रकार लगातार मणिपुर से मानवता विरोधी, अराजकता और आतंक की तस्वीरें और चल चित्र सामने आ रहे हैं ये स्थिति देश के लिए दुर्भाग्यपूर्ण है मणिपुर में महिलाओं को उनके अपनों की हत्या कर पुलिस के सामने नग्न कर घुमाना उनसे अभद्रता पूर्वक छेडछाड करना तथा उसके बाद महिला के साथ सामूहिक बलात्कार करना मानवता के लिए शर्मसार कर देने वाला क्षण है। ऐसी स्थिति में पूरा राष्ट्र शर्मसार है कि ऐसे लोग हमारे देश में निवास करते हैं, वहां उपस्थित पुलिस वाले इस अपराध के दृष्टा बने मूकदर्शक बने रहे ये भी अक्षम्य है इस घटना की जिम्मेदारी लेते हुए मणिपुर के मुख्यमन्त्री को तत्काल अपना त्यागपत्र दे देना चाहिए त्रिवेंद्र पाठक ने बताया कि पिछले दो महीने लगातार मणिपुर जिस पर की अराजकता, अमानवीयता और आतंक को झेल रहा है और राज्य का प्रशासन उसे रोकने में असमर्थ रहा है ऐसे में देश के गृहमंत्री द्वारा किसी प्रकार का कोई ठोस कदम ना उठाया जाना निन्दनीय है इस सम्पूर्ण घटनाक्रम की जिम्मेदारी लेते हुए देश के गृहमंत्री को भी त्यागपत्र देना चाहिए सरकारों में संवेदनहीनता अपराध को बढावा देती है हमारे प्रधानमंत्री आज देश की अव्यवस्था, अराजकता और आतंक पर पिछले दो महीने से कुछ बोल नहीं पाए जो कि विचारणीय है मणिपुर में भाजपा की सरकार होने के कारण इस प्रकार की चुप्पी रखा जाना और वहां की सरकार को अब तक बहाल रखना देश में बढते भाजपा के अराजकतापूर्ण शासन के अन्त के संकेत हैं। प्रधानमंत्री जी को चाहिए कि वो खुद देश के गृहमंत्री और मणिपुर के मुख्यमंत्री से त्यागपत्र लेकर राष्ट्रपति शासन की अनुशंसा करें, लेकिन दो महीने बीत जाने के बाद भी ये सब होता दिखाई नहीं देना निंदनीय है और आम आदमी पार्टी इसकी कडी निन्दा करती है।

Comments

Popular posts from this blog

विवादों के चलते हों रही अनमोल धरोहर खुर्द बुर्द व रिश्ते तार तार

अग्रसेन जयंती महोत्सव के अंतर्गत जयंती समारोह के तीसरे दिन बारह अक्टूबर को महिला सांस्कृतिक प्रतियोगिताएं संपन्न

पूज्य सिंधी पंचायत और भारतीय सिंधु सभा के संयुक्त तत्वाधान में बाल संस्कार शिविर का आयोजन