ईगो एवं अहंकार, परिवार के विकास में बाधक -- सौम्य दर्शन मुनि

||PAYAM E RAJASTHAN NEWS|| 29-JULY-2023 || अजमेर || गुरुदेव श्री सौम्यदर्शन मुनि जी महारासा ने फरमाया कि व्यक्ति के घर परिवार में सुख शांति के वातावरण का होना अति आवश्यक है ।घर में शांति रहने पर मन में भी शांति रहती है ।शांत मन से ही व्यक्ति किसी भी कार्य को सही ढंग से कर सकता है। धर्म भी व्यक्ति तभी कर पाएगा, कि जब उसका मन शांत हो .घर के वातावरण को स्वर्गमय बनाने के लिए व्यक्ति को चाहिए कि सुबह की शुरुआत ईद से, दोपहर की शुरुआत होली से और रात्रि की शुरुआत दीपावली की तरह होनी चाहिए। ईद के त्यौहार पर जिस प्रकार सवेरे सवेरे आपस में गले मिलकर प्रेम व भाईचारा प्रकट किया जाता है।उसी प्रकार सवेरे सवेरे उठकर सभी पारिवारिक जन आपस में प्रणाम,अभिवादन और भाईचारा व्यक्त करने का प्रयास करें। जिससे आपसी मनमुटाव में कमी आ सके । दोपहर होली के दिन की तरह यानी होली के दिन आपस में एक दूसरे को रंग लगाकर,एक दूसरे के घर जाकर, साथ में भोजन करके भेदभाव को समाप्त कर एक साथ खुशी व्यक्त की जाती है। उसी प्रकार घर के सभी सदस्य एक साथ बैठकर दोपहर का भोजन ग्रहण करने का प्रयास करें जिससे कोई गिला शिकवा हो तो वह दूर हो सके। दीपावली के दिवस जिस प्रकार एक साथ बैठकर पूजन किया जाता है ,उसी प्रकार शाम के समय में प्रतिदिन घर के सभी सदस्य सामूहिक रूप से जाप प्रार्थना और भगवान की स्तुति करने का प्रयास करें,ताकि घर परिवार में पॉजिटिव वाइब्रेशन का संचार हो सके । इसी के साथ अच्छे घर के वातावरण के लिए अपने हृदय में इगो की ,अहम की दीवार खड़ी होने नहीं देवें ।अहंकार की दीवार के खड़ा होने के बाद परिवार में विकास के मार्ग अवरुद्ध हो जाते हैं । अपने दिमाग में कोई भी पूर्वाग्रह यानी गलत धारणा को बिठाए नहीं रखें ,अपने और दूसरों के प्रति सकारात्मक सोचने का प्रयास करें, दलीलें या तर्क वितर्क के द्वारा परिवार की व्यवस्थाओं और रिश्तो को चलाने का प्रयास ना करें, क्योंकि परिवार और रिश्ते तो विश्वास के आधार पर निर्मित होते हैं ,और विश्वास से ही आगे चलते हैं । अतः घर के वातावरण को स्वर्गमय बनाने के जो सूत्र मिल रहे हैं उसी के अनुरूप जीवन चर्या को बना पाए, तो सुख शांति और प्रसन्नता का वातावरण निर्मित हो सकेगा। धर्म सभा को पूज्य श्री विराग दर्शन जी महारासा ने भी संबोधित किया। धर्म सभा का संचालन हंसराज नाबेड़ा ने किया।

Comments

Popular posts from this blog

गुलाम दस्तगीर कुरैशी की पुत्री मनतशा कुरैशी ने 10 वीं बोर्ड में 92.8 प्रतिशत अंक प्राप्त कर किया नाम रोशन

अजमेर उत्तर के दो ब्लॉकों की जम्बो कार्यकारिणी घोषित

विवादों के चलते हों रही अनमोल धरोहर खुर्द बुर्द व रिश्ते तार तार