रीट कार्यालय में हंगामा इंसाफ अली दंपत्ति की साजिश, अब कर रहे गलत बयानबाजी  

||PAYAM E RAJASTHAN NEWS|| 17-JUNE-2023 || अजमेर || अजमेर क्लब में शनिवार को जिले के शहर व देहात के कॉन्ग्रेस के नेताओं ने प्रेस वार्ता कर पिछले दिनों रीट कार्यालय में हुए हंगामे के लिए प्रदेश उपाध्यक्ष नसीम अख्तर व उनके पति इंसाफ अली व उनके पुत्रों सहित साथियों को जिम्मेदार ठहराया और आरटीडीसी चेयरमैन धर्मेंद्र सिंह राठौड़ के लिए सभी कांग्रेस कार्यकर्ताओं के साथ मिलकर विकास करने की बात कही। प्रेस वार्ता के दौरान महात्मा गांधी जीवन दर्शन समिति के संयोजक व एवं पूर्व विधायक डॉ. श्रीगोपाल बाहेती ने आरोप लगाया कि गत  मंगलवार को अजमेर ग्रामीण पंचायत समिति का रीट में आयोजित गांधी दर्शन प्रशिक्षिण शिविर में राजस्थान प्रदेश कांग्रेस कमेटी की प्रदेश उपाध्यक्ष एव पूर्व शिक्षा राज्यमंत्री नसीम अख्तर एवं उनके पति हाजी इंसाफ अली पुत्र अरशद इंसाफ सहित लगभग 20 समर्थकों द्वारा पूर्व नियोजित षडयंत्र के तहत हंगामा एवं गाली गलौज की है, जिससे प्रशिक्षण शिविर को बीच में बन्द करना पड गया। यह राजस्थान सरकार के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की रीति नीतियों पर कुठाराघात किया है। पूर्व विधायक डॉ बाहेती ने बताया कि इस घटना से मुख्यमंत्री को अवगत करा दिया गया था कि घटना को पार्टी का आंतरिक मामला मानते हुए आपस में बैठकर सुलझा लेगें, परंतु इंसाफ दंपत्ति ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर पहले क्रिया की फिर झूठी प्रतिक्रिया दी, जो कि निंदनीय है। उन्होंने बताया कि रीट कार्यालय में इंसाफ दंपति ने प्रशिक्षण शिविर में आकर हंगामा किया गाली गलौज की एवं हाथापाई धक्का मुक्की की। मौके की नजाकत देखते हुए महात्मा गांधी जीवन दर्शन समिति के सह संयोजक शक्ति प्रताप सिंह राठौड ने मुझे सुरक्षित निकाल दिया वरना वह तो मारपीट पर उतारू थे। उन्होंने बताया कि समस्त घटनाक्रम रीट कार्यालय में मौजूद सीसी टीवी कैमरे एवं मोबाईल में रिकॉर्ड हो गए हैं। उन्होंने बताया कि हाजी इंसाफ अली द्वारा आयोजित प्रेस कॉन्फ्रेंस में  इंसाफ अली ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में बताया कि वह शिविर हाल की ओर नहीं गए थे, जबकि शिविर स्थल की सीढ़ियां चढ़ते एवं उतरते का इंसाफ दंपत्ति का वीडियो मौजूद है। डॉ बाहैती ने आरोप लगाया कि हाजी इंसाफ अली ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में गलत बयानी कर गलत तथ्य रखे हैं कि नसीम अख्तर इंसाफ ने अमर्यादित भाषा एवं गाली गलौच नहीं की, जबकि वीडियो में नसीम अख्तर यह बोलती दिखाई दे रही है कि आज तो शक्ति प्रताप सिंह राठौड़ और उमेश शर्मा ने बचा लिया, वरना बहुत जूते पड़ते।  उन्होंने आरोप लगाया कि जयपुर में बैठे एक बड़े नेता विशेष के इशारे पर इंसाफ दंपत्ति ने यह कुकृत्य कर अशोक गहलोत की सरकार को बदनाम करने एवं निजी स्वार्थ के चलते पार्टी में फूट डालने के लिए किया है। बाहेती ने  इंसाफ अली के इस बयान को सिरे से खारिज कर दिया की पुलिस में रिपोर्ट दर्ज कराने के पीछे राजस्थान पर्यटन विकास निगम के अध्यक्ष एवं राज्यमंत्री धर्मेंद्र राठौड़ की महत्वपूर्ण भूमिका है। उन्होंने बताया कि निगम अध्यक्ष के अजमेर की राजनीति में सक्रिय होने से अजमेर में विकास कार्य हुए हैं और वह कार्यकर्ताओं को एकजुट होकर कर अजमेर जिले की सभी 8 सीटों पर कांग्रेस के प्रत्याशी विजय कराने का प्रयास कर रहे हैं, उन्हीं के प्रयासों से अजमेर में विकास के कार्यों को गति मिली है। डॉ बाहेती ने कहा कि पुष्कर में स्टॉर्म वॉटर ड्रेनेज का कार्य युद्ध स्तर पर चल रहा है एवं ब्रह्मा मंदिर का जीर्णोद्धार हो रहा है निगम अध्यक्ष राठौड़ के प्रयासों से पुष्कर विकास प्राधिकरण का गठन होली महोत्सव का आयोजन घाटो का जीर्णोद्धार पुष्कर का सौंदर्यीकरण माईस का निर्माण अंतरराष्ट्रीय पोलो ग्राउंड का निर्माण सहित 500 करोड़ की विकास योजनाएं प्रस्तावित है। आरोप लगाया कि पुष्कर में हो रहे विकास कार्यों से इंसाफ दंपत्ति बोखला गए हैं और निजी स्वार्थ के चलते अमर्यादित भाषा का उपयोग कर रहे हैं राजनीति में हिंसा का कोई स्थान नहीं है, परंतु वो बौखलागट के कारण हिंसा पर उतारू हो गए थे। अब भ्रामक बयान बाजी कर रहे हैं जोकि अशोभनीय है। जिससे संगठन को भी नुकसान पहुचाने का कार्य किया जा रहा है। इंसाफ दंपत्ति बीडिओ विजय सिंह पर भ्रष्टाचार के आरोप लगाकर अनर्गल बयानबाजी कर रहे हैं। जबकि बी डी यो विजय सिंह के नेतृत्व में अजमेर ग्रामीण पंचायत में उल्लेखनीय विकास कार्य हुए हैं। इसी कारण सभी राजनीतिक दलों के सरपंचों ने लामबंद होकर विजय सिंह का समर्थन किया है। रीट कार्यालय आकर प्रायोजित तरीके से हंगामा किया,  जिससे स्पष्ट है कि व्यक्ति विशेष के इशारे पर जानबूझकर साजिश पूर्वक रीट कार्यालय यह जानते हुए वहां पर गांधी दर्शन का अहिंसात्मक कार्यक्रम चल रहा है। पहुचकर हिंसा कारित की। यदि सोची समझी साजिश नही होती तो यह लोग रीट कार्यालय जाते ही नही । डॉ. बाहेती ने कहा कि आरटीडीसी चैयरमेन  धर्मेन्द्र राठौड ने अजमेर जिले में कांग्रेस के सभी नेताओं व कार्यकर्ताओं को ना केवल एक जुट करने का ऐतिहासिक काम किया है। ऐसे में एक जुट हुई कांग्रेस को साजिश पूर्वक तोड़ने की प्रतिक्रिया के रूप उक्त लोग काम कर रहे है। बल्कि विकास के करोड़ो के काम अजमेर जिलें में करवाकर कहीं विधायको व मंत्रिओं को पीछे छोड़ दिया है। उनकी लोकप्रियता को धूमिल करने के लिए सोची समझी साजिश के तहत चंद लोगो ने यह कृत्य किया है, जिसकी जितनी निन्दा करनी चाहिए उतनी कम है। उनके इस कृत्य को आलाकमान तक बात पहुचाकर सच्चाई की कलई खोली जाएगी । उन्होंने कहा कि मामला पुलिस में दर्ज है और जांच चल रही है, जांच में दूध का दूध और पानी का पानी हो जाएगा।  नोटंकी बाजी कर कांग्रेस सरकार को नुकसान पहुचाने से बाज आना चाहिए। प्रेस वार्ता के दौरान पूर्व विधायक डॉ राजकुमार जयपाल ने भी अपने विचार रखे और इस घटना की कड़े शब्दों में निंदा की। दुर्व्यवहार के लिए मांगी माफी - डेयरी अध्यक्ष चौधरी अजमेर डेयरी के सदर रामचंद्र चौधरी ने बताया कि डॉ श्री गोपाल बाहैती के साथ दुर्व्यवहार निंदनीय हैं। उन्होंने  इन्साफ दपत्ति पर आरोप लगाया कि वह 2000 करोड़ से अधिक की संपत्ति के मालिक हैं। एसीबी से उनकी आय से अधिक संपत्ति की जांच होनी चाहिए। पुष्कर क्षेत्र में जो जमीनों पर कब्जे हुए हैं। इसकी भी जांच होनी चाहिए। इंसाफ दंपत्ति को  माफी मांगनी चाहिए। चौधरी ने कहा कि उन्होंने राजकार्य में जाकर बाधा पहुंचाने की  गलती की है। हर गलती सजा मांगती है, जो गलती उन्होंने की है, उसे महसूस करें और माफी मांगे। आरटीडीसी चेयरमैन राठौड़ दे रहे हैं कांग्रेस को मजबूती- पूर्व जिला प्रमुख चौधरी प्रेस वार्ता में पूर्व जिला प्रमुख रामस्वरूप चौधरी ने बताया कि हाजी इंसाफ अली ने 2018 में सचिन पायलट के निवास स्थान पर भी डॉ श्री गोपाल बाहेती से दुर्व्यवहार किया था, जो कि अनुचित है । आरटीडीसी चेयरमैन धर्मेंद्र सिंह राठौड़ सभी कांग्रेस कार्यकर्ताओं के साथ मिलकर एकजुटता का संदेश देखकर जिले भर में विकास कार्य कर रहे हैं। ऐसे में राठौड़ के साथ लोग जुड़ रहे है और लोगों को जुड़ना भी चाहिए। चौधरी ने कहा कि आरटीडीसी चेयरमैन धर्मेंद्र सिंह राठौड़ राठौड़ सभी को साथ लेकर कांग्रेस को मजबूती दे रहे हैं।    प्रेस वार्ता में ये पदाधिकारी रहे मौजूद अजमेर क्लब में आयोजित प्रेस वार्ता में पूर्व विधायक डॉ राजकुमार जयपाल, पूर्व विधायक नाथूराम सिनोदिया, कैलाश झालीवाल, नोरत गुर्जर, नेता प्रतिपक्ष द्रोपदी कोली, गुलाम मुस्तफा, कुलदीप कपूर, ब्लॉक अध्यक्ष शैलेंद्र अग्रवाल, वाहिद मोहम्मद, सर्वेश पारीक, शक्ति प्रताप सिंह, मुबारक अली चीता, महमूद खान, रमेश सेनानी, फखरे मोइन, विश्राम चौधरी, भंवर सिंह, पंकज छोटवानी, निमेष चौहान, सेवादल देहात जिलाध्यक्ष जय शंकर चौधरी, अब्दुल फरहान, दामोदर शर्मा, चंद्रशेखर बालोटिया, हेमंत जोधा, मुनव्वर खान, कुशाल कोमल, वसीम खान, गणेश चौहान व आरिफ खान सहित बड़ी संख्या में कांग्रेस के प्रदेश पदाधिकारी, शहर जिला पदाधिकारी, देहात जिला पदाधिकारी, सेवादल, ब्लॉक पदाधिकारी, पार्षद, यूथ कांग्रेस व एनएसयूआई आदि  पदाधिकारी उपस्थित रहे।

Comments

Popular posts from this blog

गुलाम दस्तगीर कुरैशी की पुत्री मनतशा कुरैशी ने 10 वीं बोर्ड में 92.8 प्रतिशत अंक प्राप्त कर किया नाम रोशन

अजमेर उत्तर के दो ब्लॉकों की जम्बो कार्यकारिणी घोषित

विवादों के चलते हों रही अनमोल धरोहर खुर्द बुर्द व रिश्ते तार तार