पीएम मोदी के अजमेर दौरे पर आम आदमी पार्टी ने काले झंडे दिखा किया विरोध

||PAYAM E RAJASTHAN NEWS|| 31-MAY-2023 || अजमेर || केंद्र की मोदी सरकार के 9 साल पूरे होने पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के अजमेर दौरे का आम आदमी पार्टी ने काले झंडे दिखा कर विरोध प्रदर्शन किया। प्रदेश अध्यक्ष नवीन पालीवाल ने बताया कि आम आदमी पार्टी के प्रदेश उपाध्यक्ष कीर्ति पाठक और अजमेर जिला अध्यक्ष रवि बालोटिया के नेतृत्व में आम आदमी पार्टी कार्यकर्ताओं ने अजमेर मे पीएम मोदी के सम्बोधन के दौरान गेट नंबर दो पर पीएम मोदी के विरोध में नारेबाजी कर काले झंडे दिखाए। विरोध करने पहुँचे कार्यकर्ताओं के साथ पुलिस ने बल प्रयोग किया और मारपीट भी की। इससे जाहिर होता है कि देश में अब असहमति की कोई जगह नहीं बची और विरोध करने का संवैधानिक अधिकार भी नहीं रहा। पालीवाल ने कहा कि आम आदमी पार्टी के कार्यकर्त्ता प्रधानमंत्री से दिल्ली सरकार के खिलाफ लाए गए अध्यादेश को वापस लेने की मांग कर रहे थे। कार्यकर्त्ता देश के प्रधानमंत्री से दिल्ली की जनता का हक मांगने आए थे। पालीवाल ने कहा कि पुष्कर ब्रह्माजी के दर्शन से प्रधानमंत्री की अंतर आत्मा जागी होगी तो अध्यादेश वापस ले लेंगे। नवीन पालीवाल ने कहा कि प्रधानमंत्री अजमेर में आदतन आज फिर झूठ का बड़ा पुलिंदा फैंक कर गए हैं। गैस कनेक्शन को लेकर पीएम के आँकड़े झूठे हैं क्योंकि अधिकांश लोगों ने सिलेंडर महँगा होने के कारण भरवाना ही छोड़ दिया और ट्रेडिशनल तरीक़े से अपना काम चला रहे हैं। प्रधानमंत्री किस मुँह से राजस्थान आकर किसानों और पानी की योजना की बात कर रहे हैं। हक़ीक़त यह है कि राजस्थान में एक नल में पानी नहीं आता है। प्रदेश की जनता अभी भी बूँद-बूँद के लिए तरस रही है। जल जीवन योजना भी केंद्र और राज्य की मिलीभगत से भ्रष्टाचार की भेंट चढ़ चुकी है। घड़ियाली आंसू बहाने से क्या होगा? फिर भी थोड़ा बहुत ईमान बचा हो और राजस्थान की जनता के प्रति हमदर्दी है तो पीएम साहब पिछली बार अजमेर में ही ERCP को राष्ट्रीय परियोजना घोषित करने के वादे को पूरा क्यों नहीं करते? आज तो ERCP का ज़िक्र तक नहीं किया? पालीवाल ने कहा कि 2022 तक किसानों की आय दुगुनी करने का झूठ प्रधानमंत्री ने एक बार फिर बोल दिया। क्योंकि तीन काले क़ानून लाकर किसानों को ग़ुलाम बनाने वाली मोदी सरकार किसानों की आय दुगुनी करने की सोच ही नहीं सकती। आम आदमी पार्टी किसान आंदोलन में संसद से लेकर सड़क तक किसानों के साथ खड़ी रही, जिससे सरकार को झुकना पड़ा। आप के प्रदेश अध्यक्ष ने कहा किv प्रदेश में बीजेपी और कांग्रेस की स्थिति एक समान है। जहां अशोक गहलोत ने सीएम रहते हुए प्रदेश के किसी भी वर्ग की समस्या को गंभीरता से नहीं लिया, तो वहीं बीजेपी ने मुख्य विपक्षी दल होने के धर्म का सही से पालन नहीं किया। जिससे पूरे कार्यकाल में कांग्रेस सरकार निरंकुशता से शासन करती रही, जहां ना तो किसानों की समस्या किसी ने सुनी और न ही कानून व्यवस्था, पानी, शिक्षा और भ्रष्टाचार पर सरकार ने ध्यान दिया। जिसका नतीजा ये है कि आज प्रदेश में चारों तरफ लोग अपनी समस्याओं को लेकर कड़ी धूप में धरना प्रदर्शन करने को मजबूर हैं। लेकिन प्रदेश की गहलोत सरकार अपनी हठधर्मिता के आगे किसी की सुनने को तैयार नहीं है। नवीन पालीवाल ने तंज कसते हुए कहा कि प्रधानमंत्री जी चुनावी माहौल में आपने राजस्थान में जनसभा करके शुरुआत कर दी है, अब ये भी बता दीजिए कि अब राजस्थान में ईडी- सीबीआई की एंट्री कब होने जा रही है? पालीवाल ने कहा कि जिस राज्य में बीजेपी को लगता है कि वो हार रही है वहां ईडी-सीबीआई का इस्तेमाल किया जाता है। आप के प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि राजस्थान में बीजेपी और कांग्रेस ने अपने-अपने कार्यकाल के दौरान तो कुछ किया नहीं सिवाय भ्रष्टाचार के। अब जब चुनाव है तो दोनों ही दलों के नेताओं ने चुनावी घोषणाएं और दौरे शुरू कर दिए। जबकि आम आदमी पार्टी हमेशा की तरह अपने सादगी भरे अंदाज में जनता के बीच जा रही है और जनता के लिए जमीन पर उतरकर न्याय की लड़ाई लड़ेगी। पालीवाल ने कहा कि जितने दौरे बीजेपी और कांग्रेस वाले अब आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ताओं को देखकर कर रहे हैं, अगर इतनी शिद्दत से पहले काम किया होता तो आज इतनी भाग-दौड़ करने की जरूरत नहीं पड़ती। लेकिन अब पछताए होत का जब चिड़िया चुग गई खेत। पालीवाल ने कहा कि अब राजस्थान की जनता सब समझ चुकी है इसलिए इन दोनों पार्टियों का ये लुकाछिपी का खेल खत्म हो गया है, अब जनता प्रदेश में आम आदमी पार्टी की सरकार बनाने जा रही है जिससे आमजन की समस्याओं का हल हो सके और प्रदेश विकास की राह पर आगे बढ़ सके।

Comments

Popular posts from this blog

गुलाम दस्तगीर कुरैशी की पुत्री मनतशा कुरैशी ने 10 वीं बोर्ड में 92.8 प्रतिशत अंक प्राप्त कर किया नाम रोशन

अजमेर उत्तर के दो ब्लॉकों की जम्बो कार्यकारिणी घोषित

विवादों के चलते हों रही अनमोल धरोहर खुर्द बुर्द व रिश्ते तार तार