मातृत्व दिवस पर कवियत्री गायक कविता किरण का अभिनंदन हुआ

||PAYAM E RAJASTHAN NEWS|| 16-MAY-2023 || अजमेर || अंतरराष्ट्रीय मातृत्व दिवस पर अंतर्राष्ट्रीय साहित्य परिषद और इंडिया इंटरनेशनल म्यूजिक लवर्स सोसायटी द्वारा पंचशील प्लाजा में कवियत्री गायक कविता किरण का शाल ओढ़ाकर और अभिनंदन पत्र देखकर उनका स्वागत किया । रेखा खेमानी ने दोनों आवाजों में मेरे प्यार की उमर हो इतनी सनम और कविता किरण के साथ मिलकर जिंदगी प्यार का गीत है के गानों में सबको आश्चर्यचकित किया । रितु मोती रमानी ने मां के गीतों पर नृत्य नाटिका प्रस्तुत करते हुए मंत्रमुग्ध किया । सदस्यों में कुम कुम जैन , डॉ दीपा थदानी , कैप्टन माही , वर्षा माथुर, ऊषा मित्तल, कुंज बिहारी लाल , रश्मि मिश्रा , नीरज और वंदना मिश्रा, लता लख़्यानी , डा सतीश शर्मा, निर्मल सिंह परिहार, हनीफ जी, कमल शर्मा, मीना कंजानी, डॉ लाल थदानी, दीपक भार्गव, लक्ष्मण चैनानी , मंजू चैनानी , गोपेन्द्र सिंह राठौड़, शकील खां , कमर जहां , योगेश गौड़ , गुलाब वर्मा , तनिष्क माथुर, मनीष कोठारी,विजय कुमार शर्मा, सरला शर्मा, ने माई तेरी चुनरिया, माई री मैं कासे कहूं , तू कितनी अच्छी है, दादी अम्मा मान जाओ, बड़ा नटखट है कृष्ण कन्हैया, दिल में हो तुम, आ मेरी जैसी हसीना, ऐसा समां न होता, गम उठाने के लिए , ना तुम हमें जानो, तेरे मेरे बीच में, मेरे दिल ने तड़प के जब नाम कहीं दिल लगाना पड़ेगा, फूल आहिस्ता फेंको, कजरा मोहब्बत वाला, आदि गीत सुना कर भाव विभोर कर दिया । अपने अभिनंदन और मान सम्मान से अभिभूत होते हुए कविता किरण ने कुछ पंक्तियां *कोमल कच्ची डोर नहीं हूं इतनी भी कमजोर नहीं हूं* और *मैं लड़की 16 साल की* सुना कर ध्यान आकर्षित किया और सबकी वाहवाही लूटी । अध्यक्ष निर्मल परिहार महासचिव कुंज बिहारी लाल ने इससे पूर्व मीटिंग लेते हुए आगामी कार्यकारिणी और कार्यक्रमों पर विस्तृत चर्चा की । कोषाध्यक्ष लक्ष्मण चैनानी ने आय व्यय का ब्यौरा दिया। कार्यक्रम के अंत में मुख्य अतिथि के साथ सदस्यों ने हनीफ जी लता लख़्यानी के साथ मिलकर ये बंधन तो प्यार का बंधन है गाकर कार्यक्रम की समाप्ति की ।

Comments

Popular posts from this blog

विवादों के चलते हों रही अनमोल धरोहर खुर्द बुर्द व रिश्ते तार तार

अग्रसेन जयंती महोत्सव के अंतर्गत जयंती समारोह के तीसरे दिन बारह अक्टूबर को महिला सांस्कृतिक प्रतियोगिताएं संपन्न

पूज्य सिंधी पंचायत और भारतीय सिंधु सभा के संयुक्त तत्वाधान में बाल संस्कार शिविर का आयोजन