पाप से पश्चाताप सच्ची बात - भावना गर्ग, जेल में हुआ रोजा इफ्तार

||PAYAM E RAJASTHAN NEWS|| 11-APR-2023 || अजमेर || केंद्रीय कारागृह में रोजा इफ्तार कार्यक्रम के दौरान एडीएम सिटी भावना गर्ग ने कहा कि जो लोग जान व अनजान कर गुनाह करते हैं उन्हें ऐसे पवित्र मौकों पर पश्चाताप कर गुनाहों से माफी मांगनी चाहिए, यही सच्चा धर्म है। कारगृह में आयोजित रोजा इफ्तार में बंदियों ने भाग लिया। इदारा दावतुल हक संस्था द्वारा आयोजित कार्यक्रम में जेल अधीक्षक सुमन मालीवाल, मौलाना अयूब कासमी, सैयद गुलजार चिश्ती, नवाब हिदायतउल्ला, अहसान मिर्जा, सलमान खान, मेहबूब, अलताफ, इमरान, मोहम्मद दाउद, इकबाल, फिरदौस, बाबू आदि ने भाग लिया। इस मौके पर जेल अधीक्षक मालीवाल ने कहा कि जेल में जो सजा काट रहे हैं उन्हें धार्मिक कार्यक्रमों में भाग लेकर अपनी गलतियों का मनन करना चाहिए और जब यहां से निकले तो अच्छा शहरी बनने का संकल्प दिल में रखना चाहिए। मौलाना कासमी ने मगरीब की नमाज अदा कराई और देश में अमन चैन की दुआ के साथ कोरोना महामारी के खत्मे की दुआ की।

Comments

Popular posts from this blog

गुलाम दस्तगीर कुरैशी की पुत्री मनतशा कुरैशी ने 10 वीं बोर्ड में 92.8 प्रतिशत अंक प्राप्त कर किया नाम रोशन

अजमेर उत्तर के दो ब्लॉकों की जम्बो कार्यकारिणी घोषित

विवादों के चलते हों रही अनमोल धरोहर खुर्द बुर्द व रिश्ते तार तार