गहलोत हैं गौरक्षक मुख्यमंत्री ग्राम पंचायतों में गौशालाओं के लिए 1333 करोड़ मंजूर गायों के हितार्थ लगातार फैसले ले रही है गहलोत सरकार:- शैलेंद्र अग्रवाल

||PAYAM E RAJASTHAN NEWS|| 16-JAN-2023 || अजमेर || राजस्थान प्रदेश कांग्रेस सेवादल के प्रदेश मुख्य प्रशिक्षक व अजमेर संभाग के प्रभारी पूर्व पार्षद शैलेंद्र अग्रवाल ने राजस्थान के लोकप्रिय मुख्यमंत्री जननायक श्री अशोक गहलोत द्वारा प्रदेश की गौमाताओं के गौसंवर्धन हेतु निरंतर लिए जा रहे निर्णयों की प्रशंसा करते हुए उन्हे पत्र लिखकर धन्यवाद प्रेषित किया है। शैलेंद्र अग्रवाल ने बताया कि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने ग्राम पंचायतों में गायों के आश्रय स्थल निर्माण एवं संचालन के लिए लगभग 1333 करोड़ रुपए के वित्तीय प्रावधान को मंजूरी दी है जहां योजना के मुताबिक साल 2022-23 में 200 एवं 2023-24 में 1300 ग्राम पंचायतों में गौशाला स्थलों का निर्माण करवाया जाएगा। उन्होंने बताया कि राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने राज्य की ग्राम पंचायतों में गौशाला और पशु आश्रय स्थल जनसहभागिता योजना को बजट से पहले मंजूरी जारी की है सरकार की योजना के मुताबिक योजना के पहले चरण में 1500 ग्राम पंचायतों में आश्रय स्थल निर्माण एवं संचालन के लिए लगभग 1333 करोड़ रुपए के वित्तीय प्रावधान को मंजूरी दी गई है वहीं योजना के तहत जिन ग्राम पंचायतों में गौशाला पशु आश्रय स्थल का संचालन करने के लिए सक्षम कार्यकारी एजेंसी (ग्राम पंचायत, स्वयंसेवी संस्था उपलब्ध) होगी वहां सरकार द्वारा प्राथमिकता के आधार पर एक-एक करोड़ रुपए तक की मदद से गौशालाएं स्थापित की जाएगी। राज्य सरकार की योजना के तहत साल 2022-23 में 200 एवं 2023-24 में 1300 ग्राम पंचायतों में गौशाला स्थलों का निर्माण करवाया जाएगा जिसमें राज्य सरकार की ओर से 90 प्रतिशत और कार्यकारी एजेंसी की तरफ से 10 प्रतिशत राशि दी जाएगी। *सरकार देगी 90 फीसदी अनुदान* मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत द्वारा गौशाला स्थलों के निर्माण एवं संचालन के लिए साल 2022-23 में 183.60 करोड़ रुपए तथा साल 2023-24 के लिए 1193.40 करोड़ रुपए सहित कुल 1377 करोड़ रुपए की स्वीकृति जारी की गई है। इसके अलावा गहलोत सरकार के इस निर्णय से आवास एवं निराश्रित पशुओं के लिए भी एक स्थाई आश्रय स्थल मिल पाएगा. इसके साथ ही किसानों को भी आवारा पशुओं से राहत मिलेगी। *गौशालाओं को मिल रहा 9 महीने तक अनुदान* अग्रवाल ने बताया कि राज्य सरकार की ओर से पशुपालकों के लिए लगातार निर्णय लिए जा रहे हैं इससे पहले सरकार ने प्रदेश में चल रही गौशालाओं को साल में 9 महीने तक अनुदान देने का फैसला लिया था। मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत ने ही पिछले कार्यकाल में राजस्थान में गौ संरक्षण व संवर्द्धन के लिए देश का पहला निदेशालय बनाया गया था। गौशालाओं को साल में 9 महीने अनुदान देने वाला राजस्थान एकमात्र राज्य है, अग्रवाल ने बताया कि राज्य सरकार पशुपालकों के हितों का ध्यान रखते हुए दूध पर प्रति लीटर 5 रूपये का अनुदान भी दे रही है। शैलेंद्र अग्रवाल ने गौ संवर्धन की दिशा में राजस्थान की कांग्रेस सरकार द्वारा किये जा रहे ऐतिहासिक कार्यों के लिये मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत व मंत्रिमंडल को धन्यवाद देते हुए आभार व्यक्त किया है।

Comments

Popular posts from this blog

विवादों के चलते हों रही अनमोल धरोहर खुर्द बुर्द व रिश्ते तार तार

अग्रसेन जयंती महोत्सव के अंतर्गत जयंती समारोह के तीसरे दिन बारह अक्टूबर को महिला सांस्कृतिक प्रतियोगिताएं संपन्न

पूज्य सिंधी पंचायत और भारतीय सिंधु सभा के संयुक्त तत्वाधान में बाल संस्कार शिविर का आयोजन