राजकीय आई टी आई मे स्काउट एवं गाइड व रोवर रेजर प्रारंभ करने माग

||PAYAM E RAJASTHAN NEWS|| 24-AUG-2022 || नसीराबाद || नसीराबाद राजस्थान राज्य भारत स्काउट एवं गाइड स्थानीय सघ नसीराबाद के रोवर रेंजर ने कौशल विभाग मंत्री व राजस्थान के मुख्यमंत्री से माग की है कि राजकीय आई टी आई नसीराबाद मे स्कॉउट गाइड व रोवर रेंजर कोर्स भी प्रारंभ किये जायें । रोवर रेंजर प्रतिनिधि यश थामेत ने बताया कि अभी हाल मे राजस्थान राज्य भारत स्काउट एवं गाइड स्थानीय सघ के प्रधान व स्थानीय पूर्व विधायक एव पीसीसी सचिव महेंद्र सिंह गुर्जर के सहयोग से यह आई टी आई खुली है जो अभी संचालित है तथा वर्तमान में इसमे करीब दो सौ अधिक बच्चे अधययन कर रहे हैं । यह आई टी आई दो वर्ष व एक वर्ष की होती है इस दौरान यहां बच्चे स्काउट व रोवर का कोर्स भी कर सकते है । इस कोर्स से सरकारी नौकरी मे एक, तीन एव पांच प्रतिशत की छूट मिलती है । इस दौरान महेन्द्र सिंह गुजर व पूर्व विधायक रामनारायण गुजर, अशोक चांदना एवम राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत सहित आई टी आई नसीराबाद के अधीक्षक रामनिवास उदय के पास इस बारे मे सूचना भेज दी है । रोवर प्रतिनिधि यश थामेत, कृष्णा रील, राहुल नगलिया, मनीष परिहार, रोहित, निखिल, मुकेश गुजर, अरविंद, मनीष खिची, विकास वैष्णव, आदि ने माग की है इस आई टी आई मे स्काउट एवं गाइड कोर्स प्रारंभ हो ताकि इस आई टी आई के बच्चो को जंबूरी मे भेज सकते है जिस्सेबआई टी आई व स्थानीय सघ का नाम रोशन हो सके । स्थानीय सघ की सचिव श्रीमती ऊषा विजयवगीय ने जानकारी दी है आई टी आई दो वर्ष की होती है इस वर्ष मे बच्चे राज्य पुरस्कार आई टी आई मे रहकर प्राप्त कर सकते फिर बाद में ओपन स्काउट मे जाकर राष्ट्रपति पुरस्कार ले सकते हैं इसके साथ साथ बच्चो को बहुत कुछ सिखने को मिलता है । अभी हाल ही मे नसीराबाद के गोविंद सिंह गुजर राजकीय महाविद्यालय के राहुल नगलिया, मनीष परिहार ने राज्य पुरस्कार प्राप्त किया इसी प्रयास मे यह राष्ट्रपति पुरस्कार के शिविर मे भी नाम आ गया इस कारण इनके महाविद्यालय के प्राचार्य डॉ श्रीमती वन्दना गोविंल व संजय कुमार कनौजिया का रोवर प्रतिनिधि का बहुत प्रयास रहा आई टी आई मे रोवर रेजर खोलने की माग तेज की है ।

Comments

Popular posts from this blog

विवादों के चलते हों रही अनमोल धरोहर खुर्द बुर्द व रिश्ते तार तार

अग्रसेन जयंती महोत्सव के अंतर्गत जयंती समारोह के तीसरे दिन बारह अक्टूबर को महिला सांस्कृतिक प्रतियोगिताएं संपन्न

पूज्य सिंधी पंचायत और भारतीय सिंधु सभा के संयुक्त तत्वाधान में बाल संस्कार शिविर का आयोजन