गोयल परिवार द्वारा अनुकरणीय उदाहरण पुत्रियों ने पिता की अर्थी को कांधा व मुखाग्नि दी

||PAYAM E RAJASTHAN NEWS|| 02-JUNE-2022 || अजमेर || पुरातनपंथी परम्पराओं को दरकिनार करते हुए बक्षी जी की कोठी निवासी श्री स्नेह कुमार जी गोयल पुत्र स्व.श्री लादूराम जी गोयल के स्वर्गवास होने पर परिवारजनों और अग्रवाल समाज की प्रेरणा से स्वर्गीय स्नेह कुमार जी गोयल के पुत्र नहीं होने से उनकी दोनों पुत्रियों श्रीमती रितु और श्रीमती शालिनी ने अपने पिता की अर्थी को काधां ही नहीं अपितु मुखाग्नि देकर समाज के लिए अनुकरणीय उदाहरण पेश किया है। अग्रवाल समाज व परिवारजनों की प्रेरणा से किये गए इस कार्य की चारों और चर्चा है। स्वर्गीय स्नेह कुमार गोयल के भ्राता श्री अशोक गोयल ने बताया की बुधवार को उनका नैत्रदान भी किया गया था। उल्लेखनीय है गोयल परिवार की ओर से यह चौथा नैत्रदान है।

Comments

Popular posts from this blog

गुलाम दस्तगीर कुरैशी की पुत्री मनतशा कुरैशी ने 10 वीं बोर्ड में 92.8 प्रतिशत अंक प्राप्त कर किया नाम रोशन

अजमेर उत्तर के दो ब्लॉकों की जम्बो कार्यकारिणी घोषित

विवादों के चलते हों रही अनमोल धरोहर खुर्द बुर्द व रिश्ते तार तार