स्मार्ट सिटी कार्य में बांडी नदी के सौंदर्यीकरण के तहत बनाई गयी दीवार का मलवा ठेकेदार द्वारा बांडी नदी में समतल बिछा दिए जाने के सम्बंध में ज्ञापन दिया गया

||PAYAM E RAJASTHAN NEWS|| 20-JUNE-2022 || अजमेर || राजस्थान प्रदेश कांग्रेस सेवादल के प्रदेश मुख्य प्रशिक्षक पूर्व पार्षद शैलेन्द्र अग्रवाल के नेतृत्व में सेवादल पदाधिकारियों के एक प्रतिनिधिमंडल ने अतिरिक्त जिला कलक्टर (शहर) अजमेर भावना जी गर्ग को ज्ञापन देकर स्मार्ट सिटी के कार्यों के अंतर्गत बांडी नदी के सौंदर्यीकरण के तहत कराये गये कार्य में ठेकेदार द्वारा बांडी नदी की दीवार का मलवा (पत्थर, मिट्टी आदि) बांडी नदी से बाहर निकालने के बजाय बांडी नदी में ही समतल बिछा दिए जाने की शिकायत की। शैलेन्द्र अग्रवाल व प्रतिनिधि मंडल ने अतिरिक्त जिला कलक्टर को दिए ज्ञापन में बताया कि अजमेर में चल रहे स्मार्ट सिटी कार्यों के अंतर्गत हरि भाऊ उपाध्याय नगर, बी के कौल नगर में स्थित बांडी नदी जो फॉयसागर से प्रारम्भ होकर, ज्ञानविहार कॉलोनी, बी के कौल नगर, हरिभाऊ उपाध्याय नगर, राधा विहार कॉलोनी, पुष्कर रोड़, पुरानी विश्राम स्थली के पास से होती हुई आनासागर में मिलती है उसके सौंदर्यीकरण का कार्य भी किया जा रहा है। गत दिनों गणपति नगर, बी के कौल नगर के पास स्थित बांडी नदी के क्षेत्र में दीवार का निर्माण कराया गया था यह निर्माण कार्य लगभग एक माह पूर्व पूरा हो गया था परंतु ठेकेदार ने बांडी नदी की दिवार बनाने से एकत्रित मलवा (पत्थर, मिट्टी आदि) उसमें से बाहर नही निकाला था, इस संबंध में शिकायत करने के बाद 18 जून शनिवार को उक्त निर्माण कार्य करने वाले ठेकेदार के आदमी एक जे सी बी मशीन के माध्यम से बांडी नदी में पूरी तरह जम चुके मलवे को खुदवाकर उसी में समतल बिछाने लग गये। शैलेन्द्र अग्रवाल व अन्य लोगों ने शनिवार को दोपहर लगभग तीन बजे जब यह गलत कार्य होते हुए देखा तो उन्होंने ठेकेदार के वहां मौजूद कर्मचारियों को मलवे को नदी में समतल बिछाने से रोकने के लिए कहा व उसे नदी से बाहर निकालने का आग्रह किया परन्तु ठेकेदार के आदमियों ने उनकी बात को अनदेखा कर दिया उसी समय शैलेन्द्र अग्रवाल ने नगर निगम के स्वास्थ्य अधिकारी रूपाराम चौधरी को फोन पर सारे घटनाक्रम की जानकारी दी उन्होंने तत्काल सफाई निरीक्षक मनीष शर्मा व क्षेत्रीय जमादारों को मौके पर भेजा तथा सभी ने ठेकेदार के कर्मचारियों को नदी में मलवा बिछाने का कार्य बन्द कर मलवा नदी से बाहर निकालने के लिए कहा और इसके बाद ठेकेदार के आदमियों ने जे सी बी मशीन नदी से बाहर निकाल दी। सफाई निरीक्षक मनीष शर्मा ने उसी समय नगर निगम के उच्चाधिकारियों को भी इस संबंध में जानकारी दी जहां से जवाब आया कि अभी स्मार्ट सिटी के जे ई एन जोगाराम मौके पर आकर समस्या का निराकरण कर देंगे, काफी देर इंतजार करने के बाद भी कोई अधिकारी वहां नही आये तो सभी लोग वहां से चले गये। बाद में मालूम पड़ा कि सभी के वहां से जाने के कुछ देर बाद ही ठेकेदार के कर्मचारियों ने जे सी बी मशीन पुनः नदी में उतारकर उसमें एकत्रित सारे मलवे को नदी में ही बिछा दिया। ज्ञापन में यह भी लिखा गया है कि मानसून प्रारम्भ हो चुका है और यदि तुरन्त प्रभाव से कार्यवाही कर बांडी नदी में उक्त स्थान से मलवे को बाहर नही निकलवाया गया तो सारा मलवा (पत्थर, मिट्टी आदि) बरसाती पानी के साथ बहकर बांडी नदी के बाद वाले हिस्से में होता हुआ आनासागर में चला जायेगा साथ ही इस मलवे की वजह से बांडी नदी के आसपास के क्षेत्रों में पानी भी भर सकता है जिससे स्थानीय निवासियों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ सकता है। ज्ञापन में यह भी लिखा है कि बांडी नदी में गणपति नगर, बी के कौल नगर व क्वीन मेरी स्कूल के सामने ज्ञान विहार कॉलोनी क्षेत्र में काफी मात्रा में जलकुम्भी भी फैल गयी है अतः बरसात से पूर्व यह जलकुम्भी भी हटाया जाना अति आवश्यक है। ज्ञापन में जिला कलक्टर से मांग की गयी है कि बांडी नदी में ठेकेदार द्वारा बिछाये गए मलवे व जलकुम्भी को तुरंत प्रभाव से नदी से बाहर निकलवाकर सफाई कराने के आदेश प्रदान करें तथा दोषी लोगों के खिलाफ कार्यवाही भी करने का कष्ट करें। अतिरिक्त जिला कलक्टर अजमेर शहर भावना जी गर्ग ने प्रतिनिधिमंडल की बातों को गौर से सुनकर उस पर कार्यवाही करने का आश्वासन दिया। भावना जी गर्ग से मिलकर ज्ञापन देने वाले सेवादल पदाधिकारियों में सेवादल प्रदेश मुख्य प्रशिक्षक पूर्व पार्षद शैलेन्द्र अग्रवाल के साथ अशोक सुकरिया, आरिफ खान, पीयूष सुराणा, करतम मीणा, मनीष सैन व घनश्याम पंचोली आदि पदाधिकारी शामिल थे।

Comments

Popular posts from this blog

गुलाम दस्तगीर कुरैशी की पुत्री मनतशा कुरैशी ने 10 वीं बोर्ड में 92.8 प्रतिशत अंक प्राप्त कर किया नाम रोशन

अजमेर उत्तर के दो ब्लॉकों की जम्बो कार्यकारिणी घोषित

विवादों के चलते हों रही अनमोल धरोहर खुर्द बुर्द व रिश्ते तार तार