इण्डिया इंटरनेशनल म्यूजिक लवर्स सोसाइटी ने दी युवा गायक के के और सिद्दू मुसेवाला की यादगार स्वरांजली पर्यावरण, नूतन और बाला सुब्रह्यमनीयम के जन्म पर श्रृंखला बद्ध गीतों की प्रस्तुति

||PAYAM E RAJASTHAN NEWS|| 07-JUNE-2022 || अजमेर || इण्डिया इंटरनेशनल म्यूजिक लवर्स सोसाइटी IIMLS के तत्वाधान में आज विश्व पर्यावरण दिवस पर अजमेर क्लब में युवा गायक कृष्ण कुमार कुन्नत और पंजाबी सिंगर सिद्दू मुसेवाला को गायकों ने एक से बढ़कर एक गीत गाकर स्टैंडिंग ओवेशन के साथ अश्रुपूरित श्रद्धांजलि देकर यादगार स्वरांजली दी । इनके अलावा सदस्यों ने पर्यावरण थीम पर और सिने अभिनेत्री नूतन और महान गायक एस पी बाला सुब्रह्यमनीयम के सुप्रसिद्ध गानों से उनका जन्म दिन मनाया । स्वरांजली कार्यक्रम की शुरूआत उभरती युवा गायिका सोनाक्षी दत्ता ने पंजाबी सिंगर सिद्दू मूसेवाला जट्ट दा मुकाबला से हुई । गायक कृष्ण कुमार कुन्नत पर शंकर लाल ने तू जो मिला, लोकेश नारायण प्रिंस ने आंखों में तेरी अजब सी अदायें है। दयाल प्रियानी ने जिन्दगी दो पल की, डॉ अजीत सिंह ने ज़रा सी दिल में दे जगह तू के बाद , यज्ञदत्त ने मैंने दिल से कहा ढूंढ लाना खुशी, धर्मेंद्र श्रीवास्तव ने आवारापन बंजारापन सुनाकर सबका दिल जीता । नीरज मिश्रा जरा सी दिल में दे जगह और यज्ञदीप, प्रिंस, दयाल,महेश, सोनाक्षी, मीना के कल हम रहे या ना रहे सबने सामूहिक गान के साथ खड़े होकर युवा गायक के आकस्मिक निधन पर भावभीनी श्रद्धांजलि दी । विश्व पर्यावरण दिवस थीम पर ठाकुर गोपेंद्र राठौड़ ओ रे ताल मिले , लक्ष्मण हरजानी ने ऊपर गगन विशाल , चतुर्भुज प्रियाणी ने मेरे देश की धरती , प्रकाश जेठरा और पूनम गीतांजलि ये राते ये मौसम नदी का किनारा, प्रणय नंदी ने हे नीले गगन के तले सुनाकर स्वस्थ पर्यावरण पर संदेश दिया । एस पी बाला साहेब पर पूनम गीतांजलि ने तेरे मेरे बीच में महेश लौंगानी जी ने रेखा जी के मेरे जीवन साथी डॉ राजमणि ने आते जाते,मीना खियालानी ने पहला पहला प्यार है ,के के सुब्रता दत्ता ने हम ना समझे थे इतनी बात सुनाकर सबका दिल जीता । सिने अभिनेत्री नूतन पर चंदा भोजवानी ने आजा रे प्यार पुकारे, नैना रो रो हारे ,विजय हलदानिया जी ने मधुवन खुशबू देता है , रजनी चाण्डावत जी तेरा जाना (नूतन) रेखा जी ने जिस पथ पे चला , ऊषा मित्तल और सीमा मिश्रा तेरी राहों में खड़े दिल थाम , डॉ लाल थदानी , सीमा और दयाल प्रयाणी ने दिल ने फिर याद किया पर काबिले तारीफ़ प्रस्तुति दी ।

Comments

Popular posts from this blog

विवादों के चलते हों रही अनमोल धरोहर खुर्द बुर्द व रिश्ते तार तार

अग्रसेन जयंती महोत्सव के अंतर्गत जयंती समारोह के तीसरे दिन बारह अक्टूबर को महिला सांस्कृतिक प्रतियोगिताएं संपन्न

23 जुलाई रविवार को जयपुर में होने वाले अग्र महाकुंभ में अजमेर से भारी संख्या में शामिल होंगे अग्रवाल बंधु व मातृशक्ति