रामकथा आदर्श जीवन मूल्यों का सार हैं : रावत

||PAYAM E RAJASTHAN NEWS|| 4-FEB-2022 || अजमेर || हीरालाल नील----------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ग्राम गोवलिया में महाकाल ब्रह्ममेश्वर महादेव मंदिर डेरा वाला में चल रही श्री राम कथा में भाग लेकर पुष्कर विधायक सुरेश सिंह रावत ने कहा कि नित्य, मुक्त और बद्ध तीन प्रकार के जीव होते हैं । इसकी व्याख्या करते हुए उन्होंने बताया कि नित्य जीव वे होते हैं जो कभी नष्ट नहीं होते, मुक्त जीव वे जो एक बार मनुष्य योनि में जन्म लेने के बाद सत्संग, सत्कर्म, ईश आराधना से सांसारिक माया मोह और पुनरागमन से मुक्त हो जाते हैं और बद्ध जीव वे जो मनुष्य योनि में जन्म लेकर भी सत्संग, सत्कर्म, ईश आराधना से भागते हुए सांसारिक माया मोह में बँधे बार बार जन्म लेने के लिए बाध्य होते हैं। उन्होंने उपस्थित जन समुदाय के समक्ष श्रीराम कथा के आदर्श मूल्यों को जीवन में उतारने का आव्हान किया। बधाई गीतों के माध्यम से माहौल को राम मय बन गया। श्रोताओं के अनुराग और तालियों की गड़गड़ाहट के बीच जय श्री राम के गगन भेदी नारे वातावरण को रोमांचित कर रहे थे।

Comments

Popular posts from this blog

क़ुरैश कॉन्फ्रेंस रजिस्टर्ड क़ुरैश समाज भारत की अखिल भारतीय संस्था द्वारा जोधपुर में अतिरिक्त जिला कलेक्टर दीप्ति शर्मा को मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन सौप कर सूरसागर में आये दिन होने वाले सम्प्रदायिक दंगों से हमेशा के लिये राहत दिलाने की मांग की गई है।

विवादों के चलते हों रही अनमोल धरोहर खुर्द बुर्द व रिश्ते तार तार

अग्रसेन जयंती महोत्सव के अंतर्गत जयंती समारोह के तीसरे दिन बारह अक्टूबर को महिला सांस्कृतिक प्रतियोगिताएं संपन्न