कांग्रेसियों ने की कंगना रानौत के बयानों की कड़े शब्दों में निंदा

||PAYAM E RAJASTHAN NEWS|| 11-NOV-2021 || अजमेर || रिपोर्ट हीरालाल नील---------------------------------------------------------------------------------------------------------------- पूर्व विधायक डॉ राजकुमार जयपाल ने पद्मश्री अवार्डेड कंगना रानौत के बयान "सन 1947 में भारत को भीख मिली थी एवं सन 2014 में भारत आजाद हुआ था" बयानों की कड़े शब्दों में निंदा की है। डॉ जयपाल ने प्रेस वक्तव्य जारी कर बताया की पद्मश्री अवार्डेड कंगना रानौत का यह विवादास्पद बयान स्वाधीनता संग्राम में कुर्बानी देने वाले स्वतंत्रता सेनानियों का अपमान है। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार ने मानसिक संकीर्णता एवं संस्कार के कारण कंगना रनौत को पद्मश्री अवार्ड से नवाजा है और कंगना रनौत सस्ती लोकप्रियता हासिल करने के लिए अनर्गल बयान दे रही है। डॉ जयपाल ने बताया कि राष्ट्रवाद के नाम पर चापलूसी का नंगा नाच करने वाले कंगना पिछले 3 -4 सालों में नैतिक पतन के सभी रिकॉर्ड तोड़ चुकी है। उन्होंने कंगना रनौत से अपना बयान वापस लेने एवं देश से माफी मांगने की मांग की है। राजस्थान प्रदेश कांग्रेस कमेटी चिकित्सा प्रकोष्ठ के निवर्तमान प्रदेश उपाध्यक्ष डॉ संजय पुरोहित अजमेर शहर जिला कांग्रेस कमेटी के कुलदीप कपूर फकरे मोइन शिव कुमार बंसल आरिफ हुसैन अशोक बिंदल महेश चौहान जय श्री शर्मा ने भारत के राष्ट्रपति को पत्र लिखकर कंगना रनौत एकता कपूर एवं अदनान सामी से पद्मश्री पुरस्कार वापस लेने की मांग की है। कांग्रेसियों ने पत्र में लिखा कि कंगना रनौत एकता कपूर एवं अदनान सामी का समाज सेवा एवं देश सेवा में कोई योगदान नहीं है। केंद्र की भाजपा सरकार की संकीर्ण मानसिकता एवं संस्कार के कारण पद्म श्री अवार्ड से नवाजा गया है।

Comments

Popular posts from this blog

विवादों के चलते हों रही अनमोल धरोहर खुर्द बुर्द व रिश्ते तार तार

अग्रसेन जयंती महोत्सव के अंतर्गत जयंती समारोह के तीसरे दिन बारह अक्टूबर को महिला सांस्कृतिक प्रतियोगिताएं संपन्न

पूज्य सिंधी पंचायत और भारतीय सिंधु सभा के संयुक्त तत्वाधान में बाल संस्कार शिविर का आयोजन