राजस्थान में प्रधानमंत्री उज्जवला योजना के तहत 63 लाख से भी अधिक परिवारों को रसोई गैस कनेक्शन किए जारी

||PAYAM E RAJASTHAN NEWS|| 26-JULY-2021 || अजमेर || रिपोर्ट हीरालाल नील --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- लोकसभा में मानसून सत्र के दौरान आज अतारांकित प्रश्न के माध्यम से अजमेर सांसद भागीरथ चौधरी ने केन्द्रीय प्रेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस मंत्री ने प्रधानमंत्री उज्जवला योजना के सम्बन्ध में जून 2021 तक देश में जारी किए गए गैस कनेक्शनों की कुल संख्या तथा कितने गैस कनेक्शन जारी करने बाकी है , उक्त योजना के तहत पात्र परिवारों का चयन करने के मापदण्ड एवं नए पात्र परिवारों को इस योजना में सम्मिलित करने के बारे में जानकारी मांगी। अपने प्रत्युतर में पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस मंत्रालय में राज्य मंत्री श्री रामेश्वर तेली ने बताया कि जून 2021 की स्थिति के अनुसार प्रधानमंत्री उज्जवला योजना (पीएमयूवाई) के अन्तर्गत 8 करोड़ एलपीजी कनेक्शन जारी किए गए हैं। इस योजना के अन्तर्गत मार्च 2020 तक 8 करोड़ एलपीजी कनेक्शन जारी करने का लक्ष्य सितम्बर 2019 में ही प्राप्त कर लिया गया था। राजस्थान राज्य मेें कुल 63लाख 58 हजार से भी अधिक कनेक्शन जारी किए गए है। प्रधानमंत्री उज्जवला योजना के अन्तर्गत गरीब परिवार की वयस्क महिला के नाम पर एलपीजी कनेक्शन जारी किया जाता है बशर्ते की उक्त परिवार के किसी सदस्य के नाम पर कोई एलपीजी कनेक्शन न हो । प्रारंभ में एसईसीसी सूची या अन्य सात पहचाने गए श्रेणियों से लाभार्थियों की पहचान की गई थी इसके बाद सरकार ने प्रधानमंत्री उज्जवला योजना के अन्तर्गत शेष सभी गरीब परिवारों को यह लाभ दिया था। वित्त मंत्री के बजट अभिभाषण के तहत पहले जारी किए गए 8 करोड़ एलपीजी कनेक्शनों के अलावा 1 करोड़ एलपीजी कनेक्शन और जारी करने की घोषणा की है। प्रधानमंत्री उज्जवला योजना के अन्तर्गत 1 करोड एलपीजी कनेक्शन जारी करने के तौर तरीकों को पहले ही अंतिम रूप दिया जा चुका है और तेल विपणन कंपनियों को संसूचित कर दिया गया है। *नसीराबाद में केन्द्रीय विद्यालय मंे छात्र संख्या अधिक होने पर नए के.वी. की रखी मांग, राज्य सरकार द्वारा प्रस्ताव नहीं भिजवाये जाने का दिया केन्द्रीय शिक्षा मंत्री ने जवाब ,* *सासंद चौधरी नसीराबाद में रक्षा प्राधिकारियों से नया केवी खोलने का भिजवाएंगे प्रस्ताव*. अजमेर संसदीय क्षेत्र के नसीराबाद छावनी में स्थित केन्द्रीय विद्यालय की स्थापना, उसमें छात्र संख्या एवं बढती छात्र संख्या के मध्यनजर नवीन केन्द्रीय विद्यालय स्थापित करने अथवा उक्त विद्यालय मंे नए अनुभागों को शामिल करके दूसरी पाली आरंभ करने के बारे में अतारांकित प्रश्न का लिखित जवाब देते हुए केन्द्रीय शिक्षामंत्री श्री धर्मेन्द्र प्रधान ने बताया की केन्द्रीय विद्यालय नसीराबाद की स्थापना 1972 में हुई थी वर्तमान में कक्षा 1 से 12 मंे कुल 1565 विद्यार्थी अध्ययनरत है। नए केन्द्रीय विद्यालय खोलना एक सतत प्रक्रिया है। केन्द्रीय विद्यालयों को मुख्य रूप से रक्षा और अर्द्धसैनिक बलों के कार्मिकों, केन्द्रीय स्वायत निकायों , केन्द्रीय सार्वजनिक उपक्रमों और केन्द्रीय उच्चतर शिक्षण संस्थानों के कर्मचारियों सहित केन्द्र सरकार के स्थानान्तरणीय कर्मचारियों के बच्चों की शैक्षणिक आवश्यकताओं को एक समान शैक्षिक पाठ्यक्रम के माध्यम से पूरा करने के लिए खोला जाता है। नए केन्द्रीय विद्यालय की स्थापना के प्रस्ताव पर तभी विचार किया जाता है यदि उसे भारतसरकार/राज्यसरकार द्वारा प्रायोजित किया गया हो और संसाधनों की प्रतिबद्धता व्यक्त की गई हो। केन्द्रीय विद्यालय संगठन को राजस्थान सरकार या रक्षा प्राधिकारियों से नसीराबाद जिला अजमेर में नया केन्द्रीय विद्यालय खोलने का कोई प्रस्ताव प्राप्त नही हुआ है। सांसद चौधरी ने बताया कि छात्र संख्या एवं आने वाले समय में प्रवेश की मांग को देखते हुए नसीराबाद छावनी के रक्षा प्राधिकारियों से वार्ता कर शिघ्र ही नवीन केन्द्रीय विद्यालय का प्रस्ताव केन्द्र सरकार को भिजवाया जाएगा जिससे वर्तमान के.वी. पर भार कम हो और गुणवत्तापूर्ण शिक्षा के साथ अधिक विद्यार्थियों को अवसर मिल सके।

Comments

Popular posts from this blog

विवादों के चलते हों रही अनमोल धरोहर खुर्द बुर्द व रिश्ते तार तार

अग्रसेन जयंती महोत्सव के अंतर्गत जयंती समारोह के तीसरे दिन बारह अक्टूबर को महिला सांस्कृतिक प्रतियोगिताएं संपन्न

23 जुलाई रविवार को जयपुर में होने वाले अग्र महाकुंभ में अजमेर से भारी संख्या में शामिल होंगे अग्रवाल बंधु व मातृशक्ति