सेवा में वार,त्यौहार,आंधी तूफान बाधक नही - पाटनी गौ स्नेह मिलन के साथ वानर सेना की सेवा कर मनाई गंगा सप्तमी

||PAYAM E RAJASTHAN NEWS|| 18-MAY-2021 || अजमेर || श्रीअग्रोहा बन्धु पश्चिम क्षेत्र संस्था अध्यक्ष राजेंद्र प्रसाद मित्तल, एबीपीएस महिला समिति अध्यक्ष ज्योत्सना जैन मित्तल के अनुसार प्रतिदिन सेवा मुहिम में गंगा सप्तमी पर 2 टेंपू 1979 किलो सब्जियां यथा श्री नृसिंह गोपाल गौशाला अरड़का 1142 किलो,श्री पुष्कर आदि गौशाला जनाना रोड 700 किलो, साथ ही पचकुंड पुष्कर डियर पार्क क्षेत्र में बेजुबान वानर सेना को 137 किलो बैंगन अर्पण किए जिसमे एक टेंपू गौ भक्त समाज सेवी श्रीमती निर्मला श्रीया,दीप चंद श्रीया,शेष इशिका मनोज नानकनी, रमेश अग्रवाल जतन कंस्ट्रक्शन, महेंद्र मोनिश कानोड़िया, हरीश रजनीश कानोड़िया, डॉ आशा राहुल गर्ग, हरीश गिदवानी पेनवाला, प्रिया विनय पाटनी, राजेंद्र पाटनी व गुप्त सहयोगी के सहयोग से उपलब्ध कराई,जिससे बारह सौ से अधिक पशुधन भी लाभान्वित हुआ। ओमप्रकाश गर्ग गोटेवाला,निवर्तमान पार्षद महेंद्र जैन मित्तल के संयोजन में बाबू लाल टाक,राजेंद्र पाटनी, विनय पाटनी, राजेंद्र ठाडा, हुकुम,चेतन गुर्जर सभी ने मुस्कुराहट के साथ सेवाएं दे आत्म संतुष्टि प्राप्त की। सेवाओं के दौरान सेवाभावी राजेंद्र पाटनी ने बताया कि सेवा कोई भी हो पीड़ित मानव दीन दुखी का दर्द हो,या बेजुबान पशुओं की सेवा इसमें वार,पर्व, त्यौहार,या मौसम आंधी तूफान कहीं भी रुकावट नहीं ला सकता मनोभाव होना चाहिए मानव जीवन में प्रभु ने हमे इस योग्य सक्षम बनाया तो आत्म संतुष्टि आनंद के पल लेने चाहिए। संस्था सचिव दिनेश जैन गोयल, समिति कोषाध्यक्ष रचना अग्रवाल, ने बताया कि सब्जियों में काशीफल, बैंगन,लोकी,ककड़ी,फूल गोभी, टमाटर,आदि अर्पण की।उपाध्यक्ष सुषमा अग्रवाल,संरक्षक पुष्पा ऐरन, अंजना मित्तल, गौशाला अध्यक्ष, समिति,संस्था,सचिव सभी ने सहयोगियों का आभार प्रकट किया।महंत शिवरतन शरण ने गौमाता से भक्तों के दीर्घायु, स्वस्थ जीवन,उज्ज्वल भविष्य की मंगल कामना की।

Comments

Popular posts from this blog

विवादों के चलते हों रही अनमोल धरोहर खुर्द बुर्द व रिश्ते तार तार

अग्रसेन जयंती महोत्सव के अंतर्गत जयंती समारोह के तीसरे दिन बारह अक्टूबर को महिला सांस्कृतिक प्रतियोगिताएं संपन्न

23 जुलाई रविवार को जयपुर में होने वाले अग्र महाकुंभ में अजमेर से भारी संख्या में शामिल होंगे अग्रवाल बंधु व मातृशक्ति