व्यंग्यकार प्रदीप गुप्ता का भ्रष्टाचार के ऊपर एक करारा व्यंग

||PAYAM E RAJASTHAN NEWS|| 12-MAY-2020
|| अजमेर || व्यंग्यकार प्रदीप गुप्ता का भ्रष्टाचार के ऊपर एक करारा व्यंग


भ्रष्टाचार 
-----------
एक दिन एक शॉपिंग मॉल में मुझे 
भ्रष्टाचार मिल गया 
उसे देखते ही मैं गुस्से में 
बुरी तरह हिल गया 
वो ऊपर से लेकर नीचे तक 
ब्रांडेड कपड़ो में चमक रहा था 
उसका दिलकश चेहरा 
स्वंय के दर्प से दमक रहा था 
उसकी सधी हुई चाल में 
गजब का आत्मविश्वास था 
चेहरे पर मुस्कान और
आंखो में अनोखा सा उल्लास था 
मैने उसको गुस्से में कहा कि
तुमको बिल्कुल शर्म नही आती है 
खा खा कर मोटे हो रहे हो 
जहाँ पैसा दिखा लुढ़क जाते हो 
वे पेंदी के लोटे हो रहे हो 
जिधर देखो उधर ही 
मेज के नीचे से घुस जाते हो 
छोटे से ब्रीफकेस में ही 
पूरे के पूरे ठुस जाते हो 
तुम्हारा नाम इस देश के ऊपर 
एक बहुत बड़ा कलंक है 
राजनीति नौकरशाही कानून पुलिस 
हर जगह तुम्हारा ही आतंक है 
जिसे देखो वही 
हाथ धोकर तुम्हारे पीछे लगा है 
दुनिया में ऐसा कौन है जिसे 
तुमने अपने मायाजाल से नही ठगा है 
अपने आप को तुम 
सबसे जुदा समझते हो
आज कि दुनिया का 
बहुत  बड़ा खुदा समझते हो 
बेटा कानून के हाथ बहुत लंबे हैं 
किसी दिन लंबा नपोगे 
और जिन्दगी भर जेल में बैठकर 
राम का नाम जपोगे 
भ्रष्टाचार शालीनता के साथ
धीरे से  मुस्कराया 
पास की दुकान से मेरे लिये 
ठंडा कोकाकोला मंगाया 
और बोला - क्यो व्यर्थ में अपना 
ब्लड प्रेशर बड़ा रहे हो 
अब तुम्हारी  उम्र वो नही रही 
जो इतना गुस्सा खा रहे हो 
कानून के शिकंजे में तो मैं 
आये दिन ही आता हूँ 
मगर लें देकर मैं दो चार दिन में 
फिर छूट जाता हूँ 
ऐसी कोई जेल नही जो 
मुझे अपने आंगन में रख सके 
ऐसा कोई दाग नही जो 
मेरे उजले दामन में लग सके 
मुझे तुम अच्छी तरह नही जानते 
मेरी लीला अपरम्पार है
कभी जरूरत हो तो याद करना 
हर जगह अपना खुल्ला दरबार है 
दुनिया में ऐसा कोई काम नही 
जो मैं नही कर सकता 
दुनिया में ऐसी कोई जेब नही 
जिसे में नही भर सकता 
मेरी शरण में आ जाओ 
तुम्हारा भी कल्याण करवा दूँगा 
अकादमी पुरस्कारों से 
तुम्हारी भी झोली भरवा दूँगा 
और यह  एक नंगा सच है 
ये मत सोचना कि मैं बकता हूँ 
कानून और कानून बनाने वालों को 
मैं अपनी जेब में रखता हूँ ।
मेरा काम गारंटीड , पक्का और 
एकदम टिकाऊ है 
बस आप की जेब में दम होना चाहिऐ 
यहाँ हर आदमी बिकाऊ है   


Pradeep Gupta
Ajmer 9461324842


Comments

Popular posts from this blog

क़ुरैश कॉन्फ्रेंस रजिस्टर्ड क़ुरैश समाज भारत की अखिल भारतीय संस्था द्वारा जोधपुर में अतिरिक्त जिला कलेक्टर दीप्ति शर्मा को मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन सौप कर सूरसागर में आये दिन होने वाले सम्प्रदायिक दंगों से हमेशा के लिये राहत दिलाने की मांग की गई है।

विवादों के चलते हों रही अनमोल धरोहर खुर्द बुर्द व रिश्ते तार तार

अग्रसेन जयंती महोत्सव के अंतर्गत जयंती समारोह के तीसरे दिन बारह अक्टूबर को महिला सांस्कृतिक प्रतियोगिताएं संपन्न