अजमेर मे नोटरी की फर्जी मोहर लगाकर दस्तावेज तस्दीक करने के आरोपी को न्यायालय द्वारा दोषमुक्त करार दिया गया

||PAYAM E RAJASTHAN NEWS|| 18-DEC-2019
|| अजमेर || अजमेर मे नोटरी की फर्जी मोहर लगाकर दस्तावेज  तस्दीक करने के आरोपी  को आज न्यायालय द्वारा दोषमुक्त करार दिया गया मामला यह है कि परिवादी भवंर सिंह राठौड़ नोटरी पब्लिक के द्वारा अभियुक्त के विरुद्ध 10 दिसंबर 2012 को एक लिखित रिपोर्ट पुलिस थाना सिविल लाइंस अजमेर में प्रस्तुत की गई थी जिसमें कहा गया था कि पिछले 6 माह से स्टांप विक्रेता प्रेमराज नाई पुत्र श्री बद्री प्रसाद बोर्ड ऑफिस अजमेर के पास दुकान लगाकर स्टांप बेच रहा है जिसने प्रार्थी की फर्जी सील नाकर प्राप्ति के फर्जी हस्ताक्षर कर स्टांपो को तस्दीक कर रहा है । फर्जी बोर्ड सर्टिफिकेट बना कर प्रार्थी के सील व फर्जी हस्ताक्षर कर रहा है इस पर पुलिस ने कार्यवाही करते करते हुए प्रेमराज के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू की गई उसके बाद न्यायालय में चार्ट शीट पेश की गई आरोपी के अधिवक्ता विनोद भारद्वाज ने न्यायालय को अवगत कराया कि परिवादी द्वारा जो रिपोर्ट पुलिस को दी गई है उसमें बहुत सी विसंगतियां हैं जो स्पष्ट तौर पर दर्शाती है कि परिवादी के द्वारा प्रस्तुत परिवाद में लगाया गया अभियोग एकदम बेबुनियाद एवं झूठ पर आधारित है । गिरफ्तारी के दौरान पुलिस को मुलजिम के कब्जे से ऐसी कोई वस्तु बरामद ही नहीं हुई जो तो पुलिस द्वारा मुलजिम को गिरफ्तार किया जाना ही अवैध था और साथ ही पुलिस जांच में ऐसा कोई तथ्य प्रकट नहीं हुआ जिससे साबित हो सके की मुलजिम फर्जी सील बनाकर परिवादी को हानि कारित कर रहा था । मुलजिम के अधिवक्ता विनोद भारद्वाज ने न्यायालय को अवगत कराया कि मुलजिम फर्जी बोर्ड सर्टिफिकेट नहीं बनाता है । यदि परिवादी ने मुलजिम पर ऐसा कोई आरोप लगाया था तो पुलिस को उसकी जांच की जानी थी किंतु पुलिस ने उक्त बाबत कोई अनुसंधान नहीं किया । पुलिस ने अनुसंधान में लगभग 20 स्टांप परिवादी से प्राप्त कर जप्त किए हैं किंतु उनमें से एक भी गवाह न्यायालय में गवाही देने नहीं आया अभियोजन पक्ष आरोप को साबित करने में नाकाम रहा है इसलिए मुलजिम को दोषमुक्त किया जाना न्यायोचित है ।।।।


Comments

Popular posts from this blog

गुलाम दस्तगीर कुरैशी की पुत्री मनतशा कुरैशी ने 10 वीं बोर्ड में 92.8 प्रतिशत अंक प्राप्त कर किया नाम रोशन

अजमेर उत्तर के दो ब्लॉकों की जम्बो कार्यकारिणी घोषित

विवादों के चलते हों रही अनमोल धरोहर खुर्द बुर्द व रिश्ते तार तार